Breaking News

Default Placeholder Vivad Se Vishwas Scheme 2022 RRB NTPC Score Card 2022 MHT CET Admit Card 2022 IBPS Clerk Notification 2022

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना की घोषणा केंद्रीय बजट के दौरान 5 जुलाई 2019 को देश की वित्तमंत्री श्री मति निर्मला सीतारमण जी द्वारा की गयी है। PM Karam Yogi Mandhan Yojana अंतर्गत देश के छोटे दुकानदार और कारोबारी जो जीएसटी के तहत पंजीकृत है तथा जिनका वार्षिक टर्नओवर 1.5 करोड़ तक है, उनको कर्म योगी मानधन योजना में लाभार्थी के रूप में स्वीकृत किया जाएगा। प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना में पंजीकरण का काम 3.2 लाख जनसेवा केंद्र (CSC) को सौंपा गया है।

M Karam Yogi Mandhan Yojana 2022

इस योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए भारत सरकार द्वारा भारतीय जीवन बीमा निगम को एक नोडल एजेंसी की तरह सेलेक्ट किया गया है। PM Karam Yogi Mandhan Yojana में आवेदन करने वाले छोटे करोवारी तथा व्यापारी की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए तथा लाभार्थी को 60 वर्ष की आयु के बाद 3 हज़ार रूपए की धनराशि पेंशन के रूप में प्रति माह दी जाएगी। इसके लिए 18 साल की आयु सीमा वालो को न्यूनतम 55 रूपये का प्रीमियम देना होगा तथा 40 साल की आयु वालो को अधिकतम 200 रूपये का प्रीमियम देना होगा।

Highlights of PM Karam Yogi Mandhan Yojana

योजना का नामKaram Yogi Mandhan Yojana
द्वारा लॉन्च किया गयाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
लॉन्च की तारीख31 मई 2019
नामांकन शुरू करेंशीघ्र उपलब्ध
नामांकन की अंतिम तिथिअभी तक घोषित नहीं की गई है
लाभार्थीदेश के सभी छोटे व्यापारी और दुकानदार
लाभ60 साल की आयु के बाद 3 हजार रूपए
लाभार्थी की संख्या3 करोड़ रु
आवेदन का तरीकाऑनलाइन
ऑनलाइन वेबसाइट पर आवेदन करेंदेश के 3.2 लाख सीएससी केंद्र

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना का उद्देश्य

देश के छोटे कारोबारी व छोटे दुकानदार जो वृद्धावस्था के समय में अपनी दुकान नहीं चला पाते है, इसके चलते वह आर्थिक रूप से कमज़ोर हो जाते है और फिर जीवन यापन करने में उन्हे बड़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इन छोटे दुकानदारो और छोटे कारोबारियों तथा व्यापारियों को कर्म योगी मानधन योजना के माध्यम से 60 साल की आयु के बाद 3 हजार रूपए हर महीने पेंशन देकर आर्थिक सहायता की जाएगी। इस योजना के जरिए छोटे कारोबारियों तथा व्यापारियों को सशक्त बनाया जाएगा और देश के वरिष्ठ नागरिको को आत्मनिर्भर बनाना है।

पीएम कर्म योगी मानधन योजना के तथ्य

  • Karam Yogi Mandhan Yojana में आवेदन करने वाले छोटे कारोबारियों और व्यापारियों की आयु 18 से 40 वर्ष के बीच होनी चाहिए तथा लाभार्थी को 60 वर्ष की आयु सीमा के बाद 3 हज़ार रूपए की धनराशि पेंशन के रूप में प्रदान की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ देश के सभी छोटे-बड़े और सीमांत किसानो को प्रदान किया जाएगा।
  • यह योजना 50 प्रतिशत भारत सरकार द्वारा वित्तीय पोेषित है।
  • इस योजना के अन्तर्गत आवेदन पत्र आनलाईन माध्यम से स्वीकृत किए जायेंगे।
  • भारत सरकार द्वारा योजना का लाभ 60 साल की उम्र पूरी होने के बाद दिया जाएगा।
  • इस योजना के अन्तर्गत LIC एक नोडल ऐजन्सी की तरह कार्य करेगी।
  • भारत सरकार द्वारा पेंशन रकम मासिक रूप से लाभार्थी के बैंक अकाउंट में सीधे ट्रान्सफर की जाएगी।

प्रधानमंत्री कर्म योगी मानधन योजना में आवेदन कैसे करें?

  • कर्म योगी मानधन योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए दुकानदार को अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र से संपर्क करना होगा।
  • इस योजना से जुड़े सभी जरूरी दस्तावेज सहित अपने नजदीकी जन सेवा केंद्र पर जाएं और CSC एजेंट के पास अपने दस्तावेज जमा कर दे, इसके बाद जन सेवा केंद्र अधिकारी द्वारा ऑनलाइन फार्म भरा जाएगा।
  • आवेदन पत्र भरने के बाद आपको फाइनल रूप से जमा किया जाएगा।
  • इसको भविष्य के लिए संभाल कर सुरक्षित रखें तथा योजना के सभी लाभों का फायदा उठायें।

महत्वपूर्ण लिंक्स

आवेदन फॉर्मयहाँ क्लिक करें
ऑफिसियल वेबसाइटयहाँ क्लिक करें

Share Article: